logo

व्यापार बढ़ने की गुंजाइश भारत और पाकिस्तान के बीच

( Read 454 Times)

07 Dec 18
Share |
Print This Page

व्यापार बढ़ने की गुंजाइश भारत और पाकिस्तान के बीच भारत और पाकिस्तान के बीच व्यापार मौजूदा दो अरब डालर से बढ़कर 37 अरब डालर पर पहुंच सकता है, बशत्रे दोनों पड़ोसी कृत्रिम रूप से पैदा अड़चनों मसलन भरोसे की कमी, जटिल तथा अपारदर्शी गैर-शुल्कीय उपायों को खत्म करने के लिए कदम उठाएं। विश्व बैंक की एक रिपोर्ट में यह बात कही गई है।‘‘ग्लास हॉफ फुल : प्रामिस आफ रीजनल ट्रेड इन साउथ एशिया’ नामक इस रिपोर्ट को बुधवार को यहां जारी किया गया। ‘‘डॉन’ की खबर में कहा गया है कि दोनों देशों के बीच मौजूदा व्यापार अपनी पूरी क्षमता से काफी कम है। इसका दोहन तभी हो सकता है जबकि दोनों देश कृत्रिम बाधाओं को दूर करने पर सहमत हों। विश्व बैंक का अनुमान है कि पाकिस्तान के दक्षिण एशिया के साथ व्यापार की क्षमता 39.7 अरब डालर की है, जबकि अभी वास्तविक व्यापार 5.1 अरब डालर है। इस्लामाबाद के विश्व बैंक कार्यालय में पत्रकारों के साथ बातचीत में प्रमुख अर्थशास्त्री और इस दस्तावेज के लेखक संजय कथूरिया ने कहा कि उनका मानना है कि भरोसे से व्यापार बढ़ता है और व्यापार से भरोसा। इससे एक दूसरे की निर्भरता और शांति बढ़ती है। इस परिप्रेक्ष्य में उन्होंने कहा कि पाकिस्तान और भारत की सरकारों द्वारा करतारपुर गलियारे को खोलने से भरोसे की कमी को दूर किया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि इस तरह के कदमों से दोनों देशों का भरोसा बढ़ेगा।कथूरिया ने बताया कि पाकिस्तान का दक्षिण एशियाई देशों के साथ सबसे कम हवाई संपर्क है। पाकिस्तान की भारत और अफगानिस्तान के साथ सिर्फ छह साप्ताहिक उड़ानें हैं, 10-10 श्रीलंका और बांग्लादेश के लिए और सिर्फ एक नेपाल के लिए है।
Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Business News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like