logo

एलटीसीजी का असर एनपीएस पर नहीं

( Read 2843 Times)

15 Feb, 18 11:47
Share |
Print This Page

शेयरों से कमाई पर दीर्घकालिक पूंजीगत लाभ कर (एलटीसीजी) का राष्ट्रीय पेंशन योजना (एनपीएस) पर कोई खास असर नहीं पडेगा क्योंकि इसके पेंशन योजना के धन का निवेश जो न्यास करता है उसे कर से छूट प्राप्त है। पेंशन निधि विनियामक और विकास प्राधिकरण के अधिकारी ने यह जानकारी दी।एनपीएस नियामक पीएफआरडीए के चेयरमैन हेंमत कान्ट्रैक्टर ने यहां कहा, ‘‘एलटीजीसी का हम पर ज्यादा बोझ नहीं पडेगा। राष्ट्रीय पेंशन योजना में निवेश एनपीएस न्यासी द्वारा किया जाता है, जो एक कर छूट प्राप्त संस्था है। जहां तक पेंशन निवेश का संबंध है, एलटीसीजी का कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। स्टाक होंिल्डग कारपोरेशन के सहयोग से एनपीएस पर आयोजित एक सम्मेलन के मौके पर कान्ट्रैक्टर ने यह बात कही।उन्होंने कहा कि एलटीजीसी का प्रभाव टियर-2 खातों और स्वैच्छिक रूप से योजना को चुनने वाले गैर-पेंशन योजना वाले खातों पर पड़ेगा। टियर-2 खातों को कोई कर लाभ नहीं मिलता है। पर इन टियर-2 का निवेश कोष बहुत छोटा है। एनपीएस दो तरह के खातों-टियर-1 और टियर-2- का प्रबंधन करता है। बजट 2018-19 में शेयर बाजार में एक लाख रपए से अधिक के दीर्घकालिक पूंजीगत लाभ पर दस प्रतिशत कर (एलटीजीसी) लगाने की घोषणा की गई है। वर्तमान में एनपीएस का कुल कोष 2.25 लाख करोड़ रपए है। इसके 2 करोड़ ग्राहकों हैं।
Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Business News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like