GMCH STORIES

इंदौरी गाने की देश भर में धूम, मोहल्ले से लेकर सोशल मीडिया तक लोग रहे झूम

( Read 4776 Times)

25 Oct 20
Share |
Print This Page

इंदौरी गाने की देश भर में धूम, मोहल्ले से लेकर सोशल मीडिया तक लोग रहे झूम

- फ़िल्म डायरेक्टर और लिरिसिस्ट देवेंद्र मालवीय का लिखा और गायक शान का गाया गीत 'स्वच्छता का पंच लगाएगा इंदौर" देश भर में बटोर रहा वाहवाही

- पांचवी बार इंदौर का स्वच्छता का सिरमौर बनाने के लिए प्रेरित कर रहा गीत

- डस्टबिन, बैकलेन और वेस्ट से वेल्थ जैसे कठिन शब्दों को संजोकर बनाया सुरीला गाना

- गाने के बोल हैं 'स्वच्छता की थाम के डोर, फिर बनेगा ये सिरमौर हैट्रिक चौका लगा दिया अब चारों ओर है शोर... पंच लगाएगा इंदौर"

इंदौर। स्वच्छता का चौका लगाने के बाद शहर को पांचवीं बार सफाई का सिरमौर बनाने की तैयारी शुरू हो चुकी है। इस तैयारी में पहला कदम इस गीत के जरिए उठाया गया है जो इन दिनों इंदौर की गलियों से लेकर इंटरनेशनल लेवल तक जा पहुंचा है। हर सुबह आपका ध्यान खींचने वाला नया गीत 'पंच लगाएगा इंदौर" शहर के ही लिरिसिस्ट देवेंद्र मालवीय ने लिखा है और यह सोशल मीडिया पर धूम मचा रहा है।

वेस्ट, डस्टबिन और कचरा जैसे चुनौतीपूर्ण शब्दों को संजोये गए इस गीत में नगर निगम के उस पूरे एजेंडे को शामिल किया गया है जो इंदौर को स्वच्छता में पांचवीं बार नंबर वन बनाने के लिए बनाया गया है।लिरिसिस्ट और फ़िल्ममेकर देवेंद्र मालवीय ने बताया कि एक गाने में जीरो वेस्ट सिटी, डस्टबिन, बैक लेन, नदियां, झील, कचरा- कूडा जैसे शब्दों का इस्तेमाल करना और उन्हें लयबद्ध करना आसान काम नहीं था। यह बेहद चुनौतीपूर्ण इसलिए था क्योंकि इसमें पोएट्री और अवेयरनेस मैसेज का फ्यूजन तैयार करना था। कई बार की कल्पनाओं और करीब एक महीने की मेहनत के बाद इस तरह के शब्दों और निगम के एजेंडे को शामिल कर गीत लिखने में सफलता मिली।

*अपने शहर पर गीत लिखना गौरव की बात*

देवेंद्र ने बताया कि यह दूसरा मौका है जब मैंने शहर के लिए गीत लिखा है। पहले जिला प्रशासन और नगर निगम इंदौर के के अभियान के लिए गीत लिखा था जो कोविड-19 के प्रति लोगों को जागरूक करने और सावधानियां अपनाने की प्रेरणा देने के लिए लिखा गया था। इस गाने को खूब पसंद किया गया और इसकी सफलता के बाद नगर निगम ने फिर पांचवे सर्वेक्षण के लिए गीत लिखने की जिम्मेदारी मुझे दी। निगम अधिकारियों के साथ कई बार प्लानिंग समझने और एजेंडे पर बात करने के बाद लिरिक्स पूरी बन पाई। कोविड अवेयरनेस के लिए पहले भी मेरा लिखा गाना गा चुके फेमस सिंगर शान की आवाज़ और उन्हीं की कंपोज़िशन इस गाने के लिए ली गई। शान के साथ फीमेल सिंगर जून बेनर्जी ने इस गाने को अपनी आवाज दी और बेहद सुरीले अंदाज में गाते हुए इसे और खूबसूरत बनाया।

पांचवीं बार बाजी मारने का जोश जगा रहा यह गीत

शहर के लिए देवेंद्र का लिखा यह दूसरा गीत इसलिए इतना पसंद किया जा रहा है क्योंकि इसमें लिरिक्स को सूट करने वाले शहर के अलग-अलग स्थानों पर शूट किया गया है। ऐतिहासिक छत्रियां, राजवाड़ा, वाटर ट्रीटमेंट प्लांट सहित अन्य स्थानों पर इसकी शूटिंग की गई। इस गीत में एक ओर कत्थक मुद्राएं दिखाई गई तो दूसरी ओर छप्पन के चटखारे भी परोसे गए हैं। लोगों का इन्वॉल्वमेंट बढ़ाने के लिए घरों, कॉलोनियों में पहुंचकर उनसे मुलाकात की गई और पूरे जोश के साथ उन्होंने पांचवीं बार भी इंदौर के अव्वल रहने का संदेश दिया।

*आर्टिकल 15 और थप्पड़ जैसी फिल्मों के लिए काम कर चुके देवेंद्र*

देवेंद्र मालवीय का नाम शहर के लिए नया नहीं है। देवेंद्र मिडास टच एडवर्टाइजिंग के डायरेक्टर हैं और क्रिएटिव वीडियो एड बनाने में इनकी महारत है। मध्यप्रदेश सरकार, जिला प्रशासन सहित कई सरकारी एजेंसियों के लिए ये वीडियो एड बना चुके हैं। यही नहीं बॉलीवुड के लिए भी देवेंद्र का विज़ुअल बर्ड स्टुडियो लंबे समय से काम कर रहा है।फिल्म 'आर्टिकल 15" और 'थप्पड़" जैसी फिल्मों का वीएफएक्स का काम इन्हीं की एजेंसी ने किया है और फिल्म तान्हाजी के लिए भी कई तरह के काम किए हैं। देवेंद्र की रूचि उन वीडियो एड और लिरिक्स को क्रिएट करने में होती है जिससे समाज में एक संदेश पहुंचे और लोग जागरूक हो सके।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines , Entertainment
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like