logo

जीजजी जीवन में उजाला भर दे वह गुरूः खत्रीवनक

( Read 638 Times)

11 Aug 18
Share |
Print This Page

जीजजी जीवन में उजाला भर दे वह गुरूः खत्रीवनक बाडमेर। जीवन में माता-पिता और गुरू वे दीपक है जो आफ अंधकार युक्त जीवन में उजाला भर आपको आगे बढने के लिए प्रेरित करते है, इसलिए आपका दायित्व है कि इनका सदा सम्मान करें। इनके आशीर्वाद से ही आपकी आयु विद्या, यश और कीर्ति में वृद्धि होती है, ये उद्वार राणीगांव के राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में गुरू वंदन छात्र अभिनंदन के दौरान विशिष्ठ अतिथि पुरूषोतम खत्री ने व्यक्त किए।
संस्कार प्रकल्प के तहत मुख्य अतिथि चुन्नीलाल खत्री, विद्यालय समिति के भामाशाह मांगीलाल जैन एवं ग्राम पंचायत के सदस्य हरिसिंह द्वारा २० विद्यार्थियों को तिलक लगा प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिन्ह प्रदान कर जीवन के उतरोतर विकास के लिए आशीर्वाद प्रदान किया। भारत विकास परिषद के अध्यक्ष ओमप्रकाश मेहता ने कहा कि आदर्श जीवन जीना चाहिए। लोभ, मोह, लालच के कारण व्यक्ति में भटकाव की स्थिति उत्पन्न होती है, लेकिन संस्कारों से विकृतियां नजदीक नहीं आती है।
प्रकल्प प्रमुख बाबूलाल गौड ने आज के युग में संस्कारी बालक के गुण दोष पर बोलते हुए कहा कि माता-पिता एवं शिक्षक अपना सब कुछ न्योछावर करते है, आपकी उन्नति के लिए इसीलिए ये वंदनीय है। आप सदैव उनका सम्मान करें। विद्यालय का तिरंदाजी में राज्य स्तर पर प्रतिनिधित्व करने वाली बालिका कुमारी शीतल ने कहा कि युवा संस्कारों से भटक रहे जिनको परिषद का यह प्रेरणादायक कार्यक्रम पुनर्जीवित करने की महती भूमिका निभा रहा है। विद्यालय के श्रेष्ठ छात्र जसवंत ने कहा कि परिषद द्वारा आयोजित यह प्रकल्प कार्यक्रम रोचक है, हमें अपने गुरूजन का सम्मान करने की प्रेरणा दी। भटकाव से रोकने में सहायक होगा। आज विद्यालय के मंत्रालयिक कार्मिक कुंभाराम ने कहा कि रामायण के प्रसंग अनुसार हनुमान की शक्तियों को छीने जाने पर उन्होंने कहा था कि मैं आज भी शक्तिशाली हूं क्योंकि मेरे पास मां का आशीर्वाद है।
विद्यालय में प्रधानाचार्य श्रीमती जयमाला भूत ने संस्कारों में संयुक्त परिवार की भागीदारी की उपादेयता पर विचार रखे और उनके विद्यालय में इस कार्यक्रम के आयोजन पर विद्यालय परिवार की ओर से धन्यवाद दिया। शाखा अध्यक्ष ओमप्रकाश मेहता द्वारा नैतिक शिक्षा के शपथ दिलाते हुए कार्यक्रम आयोजन करवाने में विद्यालय परिवार सहयोग हेतु आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम के संचालन करते हुए शाखा सचिव किशोर कुमार शर्मा ने स्वास्थ्य, पर्यावरण की जानकारी उपलब्ध कराई। कार्यक्रम के आरंभ में पूर्व अध्यक्ष ओमप्रकाश गुप्ता द्वारा परिषद की स्थापना इसके इतिहास एवं प्रकल्पों की जानकारी दी। महेश सुथार ने बताया कि नेत्र ज्योति चिकित्सालय के सहयोग से विद्यालय के बालकों का नेत्र परीक्षण किया जाएगा। कार्यक्रम के दौरान अनेक अभिभावक तथा ग्रामीण महिलाओं की उपस्थिति रही।

Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Barmer News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like