जनससमस्याओं को सुना, समाधान के दिए निर्देश

( Read 1459 Times)

03 Feb 19
Share |
Print This Page
जनससमस्याओं को सुना, समाधान के दिए निर्देश

 बांसवाड़ा,जन समस्याओं के त्वरित और मौके पर ही प्रभावी निस्तारण के लिए आयोजित हो रही जिला कलक्टर आशीष गुप्ता की रात्रि चौपालों की श्रृंखला में शुक्रवार रात्रि जिले के बांसवाड़ा उपखण्ड क्षेत्र के सुरवानिया गांव में रात्रि चौपाल का आयोजन किया गया। चौपाल में कलक्टर ने ग्रामीणों से खुलकर संवाद किया तो ग्रामीणों ने भी मुखरित होते हुए अपनी-अपनी परिवेदनाएं कलक्टर के सम्मुख रखी जिस पर संबद्ध विभागीय अधिकारियों से चर्चा करते हुए समस्या समाधान भी किया गया। 
 कलक्टर ने कहा अस्पताल की हालात सुधारो: 
 चौपाल में गांव के उपसरपंच लोकेश पाटीदार ने गांव में स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के फर्श के खराब होने, शौचालय के अभाव की जानकारी दी। इस पर कलक्टर ने चिकित्सालय प्रभारी डॉ. दिनेश भाभोर से जानकारी ली तो पाया कि एमआरएस में पर्याप्त धनराशि है और जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में इस संबंध में स्वीकृति भी मिल चुकी है। इस पर कलक्टर ने डाक्टर को पाबंद किया कि स्वीकृति पर तत्काल कार्यवाही करते हुए फर्श सुधार के प्रस्ताव तैयार करवा कार्य संपादित करावें। इसी प्रकार ग्रामीणों ने चिकित्सालय में एंबुलेंस की आवश्यकता प्रतिपादित की जिस पर कलक्टर ने जानकारी लेते हुए कहा कि वे इस संबंध में स्वयं प्रयास कर एंबुलेंस उपलब्ध कराने का प्रयास करेंगे। 
 श्री सरकार आबादी भूमि को पंचायत आबादी कराने की मांग:
चौपाल में एडवोकेट राजेन्द्र पाटीदार ने गांव में वर्ष 2017 में आयोजित शिविर में गांव में करीब 106 बीघा भूमि पर बने मकानों के पट्टे आवंटन में आ रही परेशानी के बारे में बताया और कहा कि यह भूमि श्री सरकार आबादी भूमि है जिसे ग्राम पंचायत आबादी भूमि में रूपांतरण करवाया जाना है। इस पर कलक्टर ने विस्तार से जानकारी ली तथा इस संबंध में प्रस्ताव मय दस्तावेजों के प्रस्तुत करने की बात कही और इसमें सकारात्मक सहयोग को आश्वस्त किया। 
जर्जर पशु चिकित्सालय पर एईएन को रिपोर्ट देने के दिए निर्देश:
चौपाल में समाजसेवी भेमजी पाटीदार ने गांव के एक छोर पर स्थित पशु चिकित्सालय के जर्जर हो जाने की बात कही और इसके स्थान पर नवीन भवन बनवाने की मांग की। इसी प्रकार इस भवन के पास ही एक अनुपयोगी हॉल को भी गिराने की आवश्यकता बताई। कलक्टर ने इस पर लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता को दोनों भवनों की सर्वे करते हुए रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। 
बिजली, पानी, राशन की समस्याएं सुनी:
चौपाल में कलक्टर गुप्ता ने गांव में बिजली की आपूर्ति, कृषि कनेक्शनों की स्थिति के साथ पेयजल आपूर्ति व राशन वितरण से संबंधित समस्याओं के बारे में जानकारी ली। उन्होंने संबद्ध विभागीय अधिकारियों से इन समस्याओं के त्वरित निस्तारण के लिए निर्देश भी दिए। कलक्टर ने गांव में आंगनवाड़ी केन्द्रों की स्थिति की जानकारी लेते हुए ग्रामीणों को एक-एक आंगनवाड़ी केन्द्र गोद लेकर उसकी हालात सुधारने का आह्वान किया। 
इन समस्याओं पर भी हुई चर्चा:
चौपाल में ग्रामीणों ने जगतारावत का पारड़ा में श्मशान के वन भूमि मंे होने, गांव के कच्चे नाले के कारण वर्षा ऋतु में आने वाली समस्याओं, हरिजन बस्ती में श्मशान घाट पर टीन शेड निर्माण, स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण नहीं होने, पात्र दिव्यांगों को ट्राईसाईकिल उपलब्ध कराने, माही नहर की माईनर के क्षतिग्रस्त होने से पानी के अपव्यय होने, रीट लेवल प्रथम के चयनित अभ्यर्थियों को पोस्टिंग देने, केन्द्रीय सहकारी बैंक के अधीन 150 से अधिक किसानों को छोटे-छोटे ऋण उपलब्ध कराने, ऋण माफी प्रमाण पत्र प्राप्त नहीं होने व अन्य समस्याओं के बारे में जानकारी दी जिस पर कलक्टर ने संबद्ध विभागीय अधिकारियों से तथ्यात्मक जानकारी लेकर समस्याओं के समाधान के निर्देश दिए। 
प्रकरणों को गंभीरता से लें - कलक्टर
चौपाल को संबोधित करते हुए कलक्टर गुप्ता ने मौजूद अधिकारियों को गांवों की छोटी-छोटी समस्याओं को गंभीरता से लेने के निर्देश दिए और ग्रामीणों से आह्वान किया कि वे बीमारियों व कुपोषण से बचाव के लिए दवाईयां खाने की अपेक्षा अपने खान-पान की गुणवत्ता को सुधारें। उन्होंने भोजन में हरी सब्जियों के उपयोग का आह्वान किया। चौपाल के आरंभ में उपखण्ड अधिकारी पूजा पार्थ ने संबोधित किया और ग्रामीणों की समस्याओं के बारे में जानकारी ली। इस दौरान महिला एवं बाल विकास विभाग की उपनिदेशक पार्वती कटारा, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की मार्ग्रेट पटेल व चिकित्साधिकारी डॉ. दिनेश भाभोर ने विभागीय योजनाओं के बारे में जानकारी प्रदान की। 
चौपाल में ग्रामीणों ने कलक्टर गुप्ता का साफा पहना कर तथा एसडीओ का शॉल ओढ़ाकर सम्मान भी किया। इस मौके पर एवीवीएनएल एसई गिरीश जोशी, अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी सुरेश दोसी, ग्राम पंचायत के सरपंच प्रभुलाल मईड़ा, उपसरपंच लोकेश पाटीदार, भेमजी पाटीदार, प्रताप पाटीदार, रमेश वैद्य, रवीन्द्र पाटीदार, गोविंद पाटीदार, कचरूलाल पाटीदार, राजेन्द्र पाटीदार, गणेशलाल पण्ड्या, जयदीप पाटीदार, हितेश पुरोहित, हितेश जोशी, लोकेश पण्ड्या और बड़ी संख्या में विभागीय अधिकारी-कर्मचारी व ग्रामीण मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन प्रताप पाटीदार ने किया। 


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Banswara News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like