logo

बेटी बच भी जाएगी, बेटी पढ़ भी जाएगी जब उसकी सुध लेने मां स्कूल आएगी

( Read 4506 Times)

14 Nov 17
Share |
Print This Page

बांसवाड़ा राज्यसरकार 18 नवंबर को सभी सरकारी स्कूलों में पहली बार मातृशक्ति सम्मेलन करने जा रही है। इसमें भावनात्मक अपील के माध्यम से अधिक से अधिक माताओं को शामिल होने को कहा जा रहा है। राज्य सरकार की आर्थिक सहायता से होनहार बेटियों को विदेशों में पढ़ने की सुविधा दी जा रही है। अमेरिका में पढ़ रही वागड़ की बेटी सुजीता शाह के माध्यम से माताओं को अपील की गई है कि वे 18 नवंबर को स्कूलों में होने वाले मातृ सम्मेलन में भागीदारी निभाएं। स्कूल विकास के साथ बेटियों की प्रगति की दिशा में सहयोगी बन सके। सुजिता शाह बागीदौरा की रहने वाली है और माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की परीक्षा में अव्वल रहने पर राज्य सरकार ने चयन कर उसे अमेरिका पढ़ने के लिए भेजा है। वह 5 वर्षों से अमेरिका में अंतरिक्ष विज्ञान की पढ़ाई कर रही है। सुजिता भी गांव के सरकारी स्कूल में पढ़ाई करते हुए इस मुकाम तक पहुंची। अपीलकमाल की, कोशिश मिसाल की इसपहल के संवाहक और सूत्रधार बने रामावि बड़ोदिया के प्रधानाचार्य प्रकाश पंड्या ने सुजिता से इस अनूठे सम्मेलन में ज्यादा से ज्यादा मातृशक्ति की सहभागिता जुटाने के लिए चर्चा की और माताओं के नाम भावनात्मक अपील भरा संदेश अमेरिका से प्राप्त किया। सुजिता ने लिखा है कि बेटियां बच भी जाएंगी, बेटियां पढ़ भी जाएंगी, जब उनकी सुध लेने माताएं इस मातृ सम्मेलन में स्कूल जाएंगी। अपने हस्ताक्षर से माताओं के नाम भेजी इस अपील के साथ ही सुजिता ने अपनी आवाज में एक ऑडियो भी भेजा है, जिसमें वे भावनात्मक अपील कर रही हैं। प्रधानाचार्य ने बताया कि इसे मंगलवार से हजारों मातृशक्ति अभिभावकों तक पहुंचाने के प्रयास किए जाएंगे, ताकि 18 नवंबर को स्कूलों में होने वाला मातृसम्मेलन उपयोगी साबित हो सके।
Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Banswara News , Chintan
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like