logo

कचरे का थैला पकड़ने वाले बच्चों के हाथ में थमाया स्कूल बैग

( Read 13434 Times)

06 Jul 18
Share |
Print This Page
कचरे का थैला पकड़ने वाले बच्चों के हाथ में थमाया स्कूल बैग (नवीन वैष्णव)अजमेर की जिला कलक्टर आरती डोगरा आम आदमी के लिए कितनी गंभीर है, इसका उदाहरण एक बार फिर देखने को मिला। कलक्टर डोगरा ने कचरा बीनने वाले और समाज की मुख्य धारा से किसी कारणवश अलग हुए बच्चों को शिक्षा से जोड़ने के लिए विशेष निर्देश दिया था। इसके तहत मंगलवार को चौरसियावास स्कूल में ऐसे बच्चों को प्रवेश दिलवाकर डोगरा ने उनका तिलक लगाकर स्वागत किया। बच्चों को मुख्यधारा में प्रवेश करवाने के लिए कायड़ माईंस आर्थिक सहयोग प्रदान करेगी। कलक्टर डोगरा ने कायड़ माईंस प्रबंधन का आभार जताया। चौरसियावास स्कूल में प्रवेशोत्सव कार्यक्रम के बाद जिला कलक्टर ने बच्चों के साथ गले में हाथ डालकर फोटो खिंचवाए और उनके साथ खूब मस्ती भी की। बच्चे भी कलक्टर डोगरा का साथ पाकर चहक उठे।
2 घंटे निशुल्क टयूशन
जिला कलक्टर डोगरा ने कहा कि इन बच्चों मे से लगभग 20 बच्चे स्थानीय स्तर पर कचरा बीनने का कार्य करते थे। हिन्दूस्तान जिंक लिमिटेड़ कायड़ के सहयोग से संचालित ज्ञानम् एज्यूकेशन एण्ड सोशल वैलफेयर सोसायटी इन बच्चों को मुख्य धारा से जोड़ने के लिए आगे आयी। संस्थान द्वारा बच्चों तथा उनके माता पिता से बातचीत की। इससे ये बच्चे विद्यालय से जुड़ गए। संस्था के द्वारा इनका शैक्षिक स्तर उन्नयन करने के लिए भी प्रसास किया जाएगा। विद्यालय समय के बाद रोजाना 2 घण्टे अलका आसवानी एवं रमा जोशी के द्वारा निःशुल्क टयूशन भी करवाया जाएगा।
इस अवसर पर जिला पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र सिंह, अतिरिक्त जिला कलक्टर कैलाश चंद शर्मा, अबु सूफियान चौहान, नगर निगम की उपायुक्त ज्योति ककवानी, जिला शिक्षा अधिकारी तेजकरण उपाध्याय, अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी दर्शना शर्मा, स्थानीय प्रधानाध्यापक नीरज शर्मा, स्थानीय पार्षद वीरेन्द्र कुमार वालिया, हिन्दूस्तान जिंक के महेश कुमार और ज्ञानम् एज्यूकेशन एण्ड सोशल वैलफेयर सोसायटी की डायरेक्टर अल्का गोदा सहित अन्य उपस्थित थे।

Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like