GMCH STORIES

बीएन में वैचारिक मंथन एवं उच्च स्तरीय शोध निष्कर्ष के साथ अंतरराष्ट्रीय कांफ्रेंस का समापन

( Read 1442 Times)

02 Jun 24
Share |
Print This Page
बीएन में वैचारिक मंथन एवं उच्च स्तरीय शोध निष्कर्ष के साथ अंतरराष्ट्रीय कांफ्रेंस का समापन

उदयपुर  भूपाल नोबल्स स्नातकोत्तर महाविद्यालय में प्राणी शास्त्र विभाग द्वारा "रिसेंट ट्रेंड्स एंड इन्नोवेशंस इन लाइफ साइंसेज" विषय पर दो दिवसीय कॉन्फ्रेंस का आयोजन महाविद्यालय के सेमिनार हॉल में किया गया। कॉन्फ्रेंस के समापन सत्र में बोलते हुए प्रो. विनीता राठौड़, रिटायर्ड एसो. प्रो.एसएमबी, गवर्नमेंट पीजी कॉलेज नाथद्वारा ने विज्ञान में हो रहे नवाचारों से विभिन्न क्षेत्रों में होने वाले परिवर्तनों पर कहा कि पूर्व में चिकित्सा उपचार सभी को उपलब्ध नहीं थे, वर्तमान में एआई और रोबोटीक्स जैसी नई तकनीक के आगमन के साथ चिकित्सा उपचार अधिक सुलभ और प्रभावी हो गए हैं।कॉन्फ्रेंस अध्यक्ष डॉ. रेणू राठौड़ एवं कॉन्फ्रेंस निर्देशक डॉ. रितु तोमर ने विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि हाइब्रिड मोड पर आयोजित इस कांफ्रेंस में की-नोट वक्ताओं के रूप में हितेष्मा सिंह चौहान, लेक्चरर ऑफ़ इनफार्मेशन सिस्टम एंड मैनेजमेंट, द हेग यूनिवर्सिटी ऑफ अप्लाइड साइंसेज, नीदरलैंड ने एआई पर विस्तृत प्रकाश डाला। डॉ.लुबियाना बहर‌, कंसलटेंट इन इंटेंसिव केयर मेडिसिन, इंग्लैंड ने "स्मार्ट टेक्नोलॉजी एंड रोल ऑफ़ ए आई इन हेल्थ मॉनिटरिंग" पर अपना वक्तव्य प्रस्तुत किया।निधि सैखेदकर, जॉनसन एंड जॉनसन, उतरेज, नीदरलैंड ने "पोटेंशियल क्यूरियोसिटी एंड एक्सपेरिमेंट्स इन लाइफ साइंसेज कैरियर्स" एवं डॉ. नेहा जायसवाल ,साइंटिफिक रिसर्च ऑफिसर, आईएमसीएचआरसी इंदौर ने "सिकल सेल्स "पर प्रकाश डाला। कॉन्फ्रेंस के मुख्य संरक्षक प्रो. कर्नल शिवसिंह सारंगदेवोत, संरक्षक डॉ. महेंद्र सिंह राठौड़, सह संरक्षक मोहब्बत सिंह राठौड़ ने सभी को कांफ्रेंस की अपार सफलता पर प्रेषित अपने बधाई संदेश में कहा कि ऐसे आयोजन निरंतर नए शोध, नए आयाम एवं आने वाली भावी पीढ़ी के लिए चुनौतियों के नए मार्ग प्रशस्त करेंगे साथ ही वैचारिक मंथन से प्राप्त निष्कर्ष भविष्य में वैज्ञानिक नवाचारों  के आधार बनेगें। कॉन्फ्रेंस सचिव एवं प्राणी शास्त्र विभागाध्यक्ष डॉ. संगीता राठौड़ ने दो-दिवसीय कान्फ्रेंस का प्रतिवेदन प्रस्तुत कर अपना धन्यवाद ज्ञापित किया साथ ही तकनीकी सत्रों पर प्रकाश डालते हुए बताया कि ओरल प्रेजेंटेशन में ऑफलाइन मोड पर प्रथम डॉ. राम प्रकाश सरन, द्वितीय सोनिया पथेरिया एवं ऑनलाइन मोड पर प्रथम आयुषी मलिक, द्वितीय टेमेसें बंगा तथा ऑनलाइन पोस्टर प्रेजेंटेशन में प्रथम डॉ. अविनाश मारवाल, द्वितीय जसप्रीत कौर तथा ऑफलाइन मोड पर प्रथम भव्या सिंह, प्रियंका चारण एवं द्वितीय स्थान पर रमेश चौहान विजेता रहे। सभी विजेताओं को अतिथियों द्वारा पुरस्कृत किया गया। इस कॉन्फ्रेंस को सफल बनाने में  आयोजक डॉ. अभिमन्यु सिंह राठौड़, समिति सदस्य डॉ.सबिया सिंधी, श्रीमती मोनिका राजावत, डॉ.नीरजा शेखावत, डॉ.ज्योत्सना शेखावत, सुश्री रिद्धिमा शक्तावत ने अपना पूर्ण सहयोग प्रदान किया। कार्यक्रम का संचालन डॉ. प्रवीणा राठौड़, डॉ.ज्योत्सना शेखावत द्वारा किया गया। ये जानकारी विश्वविद्यालय के जनसम्पर्क अधिकारी डॉ कमल सिंह राठौड़ ने दी।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Bhupal Nobles University
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like