logo

व्यक्तित्व विकास से व्यक्ति का आत्म विश्वास बढता है

( Read 4182 Times)

28 Feb 18
Share |
Print This Page
व्यक्तित्व विकास से व्यक्ति का आत्म विश्वास बढता है उदयपुर .जनार्दनराय नागर राजस्थान विद्यापीठ के संघटक फिजियोथेरेपी विभाग में ग्लोबल टेलेन्ट ट्रेक एवं नाशकोम फाउण्डेशन के संयुक्त तत्वाधान व्यक्तित्व विकास एवं प्रतिभा निखार विशय पर एक दिवसीय कार्यशाला मुख्य वक्ता राष्ट्रीय स्तर के जाने माने मोहम्मद जुनैद ने विभाग में लभगभ १२० प्रतिभागी छात्रों से व्यक्तित्व विकास क्या है प्रत्येक व्यक्ति जन्म से अनुठा है सभी में कुछ विशेष ऐसा है जो हमे ओरों से अलग करता है यही विशेषताऐं तय करती है कि हम कौन है और किसी परिस्थिति में किस तरह व्यवहार करेगें। साथ ही कहा कि व्यक्तित्व विकास के लाभ के रूप में तनाव रहित स्वस्थ जीवन जीने की राह पर अग्रसर रहता है साथ ही बेहतर निर्णय लेने की क्षमता का विकास होता है। व्यक्तित्व विकास से व्यक्ति का आत्म विश्वास बढ जाता है जिससे व्यक्ति का एक मधुर व्यक्तित्व समाज के सामने दृष्टगत होता है। इसके साथ श्री जुनैद ने बताया कि साक्षात्कार में विद्यार्थी को किस तरह सफलता हासिल की जा सकती है इसके गुर बतायें। जिसमें विद्यार्थीयों के साथ साथ अन्य अभ्यार्थीयों को लाभान्वित किया। प्राचार्य डॉ० शैलेन्द्र मेहता ने भी अपने विचार व्यक्त किये। कार्यशाला संयोजक डॉ० प्रज्ञा भट्ट ने भी अपने विचार व्यक्त कर विद्यार्थीयों को व्यक्तित्व विकास से सम्बधित उपयोगी जानकारी प्रेषित की । इस अवसर पर विभाग के डॉ० सत्यभूषण नागर, डॉ. विनोद नायर, डॉ० आरूषि टंडन, डॉ० विनिता वाघेला, श्री लीलाधर नागदा इत्यादि उपस्थित थे ।यह जानकारी विभाग के प्राचार्य डॉ० शैलेन्द्र मेहता द्वारा दी गई।



Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Udaipur News , Sponsored Stories
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like