Pressnote.in

रोजगार क्षमताओं के आंकलन हेतु कार्यशाला का आयोजन २० जून को

( Read 10073 Times)

18 Jun, 17 08:45
Share |
Print This Page

उदयपुर.. ’’वर्तमान परिवेश में बाजार की जरुरतें एवं उद्योग-धन्धों में रोजगार क्षमताओं के आंकलन हेतु‘‘ गृह विज्ञान महाविद्यालय, उदयपुर में हितकारकों (Stakeholders) की कार्यशाला का आयोजन २० जून, २०१७ को किया जाना प्रस्तावित है।

महाविद्यालय में संचालित रोजगार इकाई द्वारा प्रति वर्ष स्नातक एवं स्नातकोत्तर स्तर की छात्राओं को कार्यशाला के माध्यम से विभिन्न रोजगार के अवसर प्रदान किये जाते हैं। रोजगार इकाई की प्रभारी प्रो. ऋतु सिंघवी ने बताया कि इस वर्ष नये पाठ्यक्रमों से हितकारकों (Stakeholders) को अवगत कराने तथा उनकी अपेक्षाओं एवं मापदंडो के अनुसार पाठ्यक्रम में वांछित सुझाव हेतु इस कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा हैं। इस कार्यशाला में भाग लेने हेतु ४०-५० प्रसिद्ध संस्थानों के हितकारकों एवं महाविद्यालय के विषय विशेषज्ञों के मध्य विचार-विमर्श किया जाएगा। कार्यशाला में प्रस्तावित सुझावों का महाविद्यालय की उच्च स्तरीय कमेटी अवलोकन करके छात्राओं के बेहतर रोजगार हेतु आवश्यकतानुसार निर्णय लेगी।

अधिष्ठाता प्रो. शशि जैन के अनुसार म.प्र.कृ.प्रौ.वि.वि. उदयपुर की संघटक ईकाई गृह विज्ञान महाविद्यालय में राष्ट्र्ीय स्तर पर पाठ्यक्रम एवं विषयसाम्रगी में समयोचित पुनरावलोकन कर अधिक से अधिक रोजगारोन्मुखी बनाने हेतु वर्ष २०१७-१८ से स्नातक स्तर पर दो व्यावसायिक डिग्री पाठ्यक्रम प्रस्तावित हैं -

foKku Lukrd vkWulZ% leqnk; foKku [B.Sc. Hons. Community Science]
चार वर्षीय पाठ्यक्रम में प्रथम तीन वर्ष तक मानव विकास एवं पारिवारिक अध्ययन, खाद्य विज्ञान एवं पोषण, प्रसार शिक्षा एवं संचार प्रबन्ध, संसाधन प्रबन्ध एवं उपभोक्ता विज्ञान तथा वस्त्र एवं परिधान अभिकल्पन से सम्बन्धित विषयों में शिक्षा दी जाती है। चतुर्थ वर्ष में छात्राओं को रोजगार एवं उद्यमिता सम्बन्धित ज्ञान का अनुभव देने के लिये Student READY Programme (Rural Entrepreneurship Awareness Development Yojna) लागू होगा जिसके घटक है - अनुभवात्मक अधिगम, ग्रामीण कार्यानुभव, इनप्लान्ट प्रशिक्षण, दक्षता विकास प्रशिक्षण एवं स्टूडेन्ट प्रोजेक्ट्स। Student READY Programme के अर्न्तगत छात्राओं को दो मोड्यूल- “उत्पाद विकास एवं उद्यमिता” या ”समुदाय पोषण एवं कल्याण“ मे से एक का अघ्ययन करना होगा एवं विषय सम्बन्धित व्यवसायिक ईकाई में अनुभवात्मक प्रशिक्षण दिया जाएगा।

विज्ञान स्नातक ऑनर्सः खाद्य पोषण एंव आहार विज्ञान ख्B.Sc. Hons. Food Nutrition & Dietetics]
चार वर्षीय पाठ्यक्रम में प्रथम तीन वर्ष तक खाद्य पोषण एंव आहार विज्ञान से सम्बन्धित सैद्वान्तिक एवं प्रायोगिक शिक्षा दी जायेगी। चतुर्थ वर्ष में Student READY programme के अन्तर्गत छात्र छात्राओं को समुदाय पोषण, पोषण स्थिति का आंकलन, भोजन एवं पोषण सम्बन्धित सलाह, उद्यमिता विकास तथा आहार सेवा प्रबन्ध सम्बन्धित विषयों में अनुभवात्मक प्रशिक्षण दिया जायेगा।


Source :

यह खबर निम???न श???रेणियों पर भी है: Education
Your Comments ! Share Your Openion

Group Edior : Mr. Virendra Shrivastava
For any queries please mail us at : newsdesk.pr@gmail.com For any content related issue or query email us at newsdesk.pr@gmail.com, CopyRight © All Right Reserved. Pressnote.in