Pressnote.in

रात्रि चौपाल में उमड़ा ग्राम्य जागरुकता का ज्वार

( Read 1579 Times)

14 Jul, 17 06:11
Share |
Print This Page
रात्रि चौपाल में उमड़ा ग्राम्य जागरुकता का ज्वार राजसमन्द, जिला कलक्टर श्री पीसी बेरवाल की देवगढ़ के अटल सेवा केन्द्र में बुघवार रात हुई चौपाल खूब जमी और इसने ग्रामीणों की ढेरों समस्याओं को हाथों हाथ समाधान तथा निर्णायक कार्यवाही का रास्ता दिखा दिया।
रात्रि चौपाल में देलवाड़ा एवं आस-पास के क्षेत्र के जागरुक नागरिकों का जमघट लगा रहा है और उन्होंने क्षेत्र की एक-एक समस्या की ओर जिला कलक्टर एवं अन्य अधिकारियों को ध्यान आकर्षित किया और जमीनी हकीकत से रूबरू कराया। रात्रि चौपाल में उपखण्ड अधिकारी सुश्री निशा अग्रवाल, तहसीलदार श्री राजेन्द्र भारद्वाज, विकास अधिकारी श्री वीरेन्द्र जैन, नायब तहसीलदार श्री शान्तिलाल जैन सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी,प्रतिनिधि एवं कार्मिकोें सहित क्षेत्रीय जन प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में ग्रामीण स्त्री-पुरुष उपस्थित थे।
जनता के प्रति जवाबदेही लाएं
जिला कलक्टर ने ग्रामीणों की समस्याओं को सुना तथा कई समस्याओं का लम्बे समय से निस्तारण नहीं हो पाने पर अधिकारियों एवं कार्मिकों को जमकर फटकार लगाई और राज-काज के प्रति गंभीरता बरतने के निर्देश देते हुए चेतावनी दी कि सही ढंग से काम नहीं करेंगे तो जिला प्रशासन सख्त कार्यवाही अमल में लाने से हिचहिचाएगा नहीं।
जन कल्याण का आदर्श स्थापित करें
जिला कलक्टर श्री बेरवाल ने विभागीय अधिकारियों एवं क्षेत्र के राज्यकर्मियों को चेताया कि जनता की बुनियादी सेवाओं और सुविधाओं के प्रति गंभीरता बरतें, ग्रामीणों की समस्याओं को प्रेमपूर्वक सुनें और समाधान करें। समस्या लेकर आने वाले लोगों को टाले नहीं बल्कि उन्हें जितना जल्द हो सके, राहत प्रदान कर ग्राम्य जनता का विश्वास जीतें और कल्याणकारी शासन-प्रशासन की दिली अनुभूति कराएं।
ग्रामीणों ने गिनाई ढेरों समस्याएं
ग्रामीणों ने जिला कलक्टर को क्षेत्र की तमाम समस्याओं और विकास की जरूरतों के बारे में विस्तार से बताया और इस दिशा में कार्यवाही का आग्रह किया। ग्रामीणों ने बताया कि रोडवेज की बसें देलवाड़ा मार्ग पर नहीं आती हैं और इस कारण से एकलिंगजी दर्शन के लिए जाने वाले श्रद्धालुओं सहित क्षेत्र के दर्जनों गांवों के ग्रामीणोें को आवागमन सुविधा से वंचित रहना पड़ रहा है और इससे कई सारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।
ग्रामीण महिलाआें ने तल्ख अन्दाज में ने गांव में गायनिक लेड़ी डॉक्टर की कमी की ओर ध्यान आकर्षित करते हुए अस्पताल के डॉक्टर की शिकायत करते हुए बताया कि वह डिलीवरी केस को रेफर कर देता है अथवा खुद प्रसूति नहीं कराकर अपने मातहतों से ईलाज का कार्य करवाता है।
ग्रामीणों ने पुलिस की शिकायत करते हुए ग्राम्य सुरक्षा और अपराधों की रोकथाम एवं ठोस कार्यवाही के प्रबन्ध करने का आग्रह किया।
हर समस्या का होगा समाधान
जिला कलक्टर ने ग्रामीण क्षेत्रों में परिवेशीय हालातों, पानी-बिजली, चिकित्सा व स्वास्थ्य, सड़क सुविधा, शिक्षा सहित तमाम क्षेत्रों की समस्याओं की जानकारी ली और ग्रामीणों को विकास योजनाओं का लाभ उठाने के लिए पूरी जागरुकता एवं सामूहिक विकास की भावना से आगे आने का आह्वान किया। उन्होंने ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि उनकी हरेक समस्या का समाधान होगा।
गांव की सफाई से संबंधित मुद्दे पर चर्चा करते हुए ग्रामीणों ने एनजीओ द्वारा सफाई के उपरान्त कचरा उठाव नहीं हो पाने को गंभीर बताया। इस पर विकास अधिकारी श्री वीरेन्द्र जैन ने आश्वस्त किया कि निर्धारित स्थल से ट्रेक्टर द्वारा उठाव के कार्य में ग्राम पंचायत मदद करेगी।
Source :

यह खबर निम???न श???रेणियों पर भी है: Rajsamand News , Editors Choice
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like



Group Edior : Mr. Virendra Shrivastava
For any queries please mail us at : newsdesk.pr@gmail.com For any content related issue or query email us at newsdesk.pr@gmail.com, CopyRight © All Right Reserved. Pressnote.in