Pressnote.in

सांस्कृतिक प्रस्तुतियों ने मचाई धूम

( Read 5612 Times)

12 Feb, 17 09:23
Share |
Print This Page
सांस्कृतिक प्रस्तुतियों ने मचाई धूम डूंगरपुर, बेणेश्वर धाम पर चल रहे जनजातियों के महाकुंभ बेणेश्वर मेले में शुक्रवार शाम सांस्कृतिक प्रस्तुतियों ने धूम मचा दी। मनोहारी सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से संध्या उल्लास भरे रंगो से रंग गई।
जिला प्रशासन एवं पर्यटन विभाग के संयुक्त तत्वाधान में तीन दिवसीय रात्रि कालीन सांस्कृतिक संध्या कार्यक्रमों के तहत शुक्रवार सायं देश के विभिन्न भागों से आए राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के ख्यातनाम कलाकारों द्वारा दी गई चित्ताकर्षक प्रस्तुतियों से एक यादगार शाम बन गई और इन प्रस्तुतियों में पूरे देश की संस्कृति का उल्लाास नजर आया।
बेणेश्वर धाम पर बने मुक्ताकाशी रंगमंच पर पश्चिमी क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र उदयपुर के कलाकारों द्वारा अपनी प्रस्तुतियों से अपार जनसमूह का भरपूर मनोरंजन किया तथा दर्शकों ने करतल ध्वनि से प्रस्तुतियों की सराहना की। सांस्कृतिक संध्या के दौरान पडौसी राज्य गुजरात से आए ख्याति प्राप्त कलाकारों द्वारा दी गई केरवानों वेष, रास एवं गरबा की प्रस्तुतियों पर दर्शक झूम उठे वहीं कार्यक्रम में राजस्थान के जोधपुर से आई कलाकार सुश्री पूजा द्वारा प्रस्तुत कालबेलिया नृत्य के करतबों ने समस्तजन को रोमाचिंत कर दिया। राजस्थान की ही संस्कृति को प्रस्तुत करते बारां के तेजकरण एवं दल द्वारा मनोहारी चकरी नृत्य पर उपस्थित दर्शक मंत्रमुग्ध हो गए।
सांस्कृतिक संध्या में सायरा गांव उदयपुर के पूरणदास एवं दल द्वारा प्रस्तुत तेहरताली नृत्य ने फि़जा को लोक सांस्कृति से सरोबार कर दर्शकों को अभिभूत कर दिया। इसके साथ ही जिला डंाग गुजरात से आए पवन बागुल एवं दल द्वारा डांग नृत्य की प्रस्तुतियां ने सांस्कृतिक संध्या में धूम मचा दी।
कार्यक्रम की रंगारंग प्रस्तुतियों में जब महाराष्ट्र के शाहीर आदिनाथ विभूते द्वारा प्रस्तुत लावणी नृत्य एवं पोवाडा(लोक नाट्य) ने लोक कलाओं की प्रस्तुतियों को नये आयाम प्रदान किए।
कार्यक्रम में मध्यप्रदेश के सागर जिला से आए कलाकार उमेश नाम देव द्वारा बधाई नृत्य एवं नौरता नृत्य की प्रस्तुतियों की भी दर्शकों ने भरपूर सराहना की। जहां वातावरण को पंजाब पटियाला से आए अमरिन्दर सिंह के भांगडा नृत्य ने उत्सवी माहौल का रूप दे दिया वहीं ऋषभदेव उदयपुर से आए अमृतलाल मीणा द्वारा आदिवासी नृत्य एवं महाराष्ट्र से आएं अम्बादास म्हाले द्वारा सौंगी मुखौटे नृत्य की सांस्कृतिक प्रस्तुतियां भी आकर्षण को केन्द्र रही।
सांस्कृतिक संध्या के दौरान जिला कलक्टर सुरेन्द्र कुमार सोलंकी, उपखण्ड अधिकारी आसपुर अनिल शर्मा, विकास अधिकारी साबला राकेश वर्मा, तहसीलदार आसपुर रमणलाल, जिला पर्यटन अधिकारी अनिल तलवाडिया, पश्चिमी सांस्कृतिक केन्द्र उदयपुर कार्यक्रम अधिकारी राकेश मेहता, बलवंत सिंह वलई सहित अनेक गणमान्य नागरिकगण, जनप्रतिनिधिगण एवं बड़ी संख्या में मेलार्थी उपस्थित थे। कार्यक्रम का सञ्चालन ब्रजमोहन तूफान ने किया।
Source :

यह खबर निम???न श???रेणियों पर भी है: Litrature News , Dungarpur News
Your Comments ! Share Your Openion

Group Edior : Mr. Virendra Shrivastava
For any queries please mail us at : newsdesk.pr@gmail.com For any content related issue or query email us at newsdesk.pr@gmail.com, CopyRight © All Right Reserved. Pressnote.in